Friday, December 2, 2022
spot_img
spot_img

संगीत निर्देशकों की जोड़ी कल्याणजी-आनंदजी के 10 मस्तीभरे गाने

कल्याणजी भाई की 20वीं पुण्यतिथि पर नरेंद्र कुश्णूर ने संगीत निर्देशकों की इस गतिशील जोड़ी के ऐसे 10 गाने चुनें हैं, जो उनकी बहुमुखी प्रतिभा को दर्शाते हैं।

 70 के दशक के दौरान, कल्याणजीआनंदजी की जोड़ी तीन सबसे मशहूर संगीत निर्देशकों में से एक थी, जिसमें आर.डी.बर्मन और लक्ष्मीकांतप्यारेलाल भी सम्मलित थे। उनके कुछ सबसे बड़े हिट गाने, उस समय बॉलीवुड पर राज कर रहे सुपर स्टार अमिताभ बच्चन पर फिल्माए गए थे।

        उन्हें, उनकी गर्मजोशी और हास्यवृति के लिए जाना जाता है, 24 अगस्त, 2000 को बड़े भाई कल्याणजी वीरजी शाह का निधन हो गया। उनकी 20वीं पुण्यतिथि पर हम यह निर्णय नहीं कर पा रहे थे कि उनके कौन से 10 गाने चुनें।

         वो बहुमुखी प्रतिभा के धनी थेचाहे  देशभक्ति गीत “मेरे देश की धरती” उपकार फिल्म से, दोस्ती गीत “यारी है  ईमान मेराजंजीर फिल्म से हो या प्रेम गीत “पल पल दिल के पास” फिल्म ब्लैकमेल से हो, फिर भी, प्रशंसक उनके मस्ती और उत्साह से भरे गीतों के लिए उन्हें याद करते हैं। उनके कई गानों का संगीत, गीतों के  बोल से, आकर्षक धुनों से और मजबूत तालों से, बड़ी सरलता से जोड़ा जा सकता थायहां हमने इस गतिशील जोड़ी के ऐसे ही 10 मस्ती भरे गाने चुनें हैं।

1. डम डिगा डिगाछलिया(1960)

यह गाना संगीत निर्देशकों की जोड़ी के प्रारंभिक सफल गीतों में से एक है। इस गीत को गली में चलते हुए राज कपूर पर फ़िल्माया गया, जिसे वर्षा अनुक्रम में दर्शाया गया था। मुकेश ने इस गाने को अपनी सर्वोत्कृष्ट शैली में गाया, जिसमें कमर जलालाबादी की लिखी पंक्तियाँ कुछ इस तरह हैं: “ डम डिगा डिगा, मौसम भिगा भिगा,  बिन पिये मैं तो गिरा, मैं तो गिरा”।

 

  1. हमको तुमपे प्यार आया- जब जब फूल खिले(1965)

इस गीत को “अफ्फू खुदा” भी कहते हैं, क्योंकि इस गाने की पंक्ति “अफ्फू खुदा” से शुरू होती है। आनंद बख्शी के लिखे इस गीत को मो.रफी ने गाया, जिसे शशि कपूर पर फ़िल्माया गया जो आउटडोर लोकेशन में नृत्य करते नजर आते है। अभिनेत्री नंदा, इस गाने में संक्षिप्त रूप में दिखाई गई है। 

 

3.दो बेचारे- विक्टोरिया नं. 203(1972)

इस गीत के लिए किशोर कुमार और महेंद्र कपूर एक साथ आये और इस मस्ती भरे गाने को अशोक कुमार और प्राण पर फ़िल्माया गया। इस प्यारी मनोरंजक फिल्म में अशोक कुमार और प्राण ने सुनहरे दिल वाले बदमाशों की भूमिका निभाई है। इस गीत के बोल वर्मा मालिक के थे और यह उस समय का बहुत बड़ा हिट गीत था।

 

4. रफ्ता रफ्ता देखो- कहानी किस्मत की(1973)

यह एक प्रफुल्लित गीत है, जिसमें गिटार की झंकार का कुशलतापूर्वक इस्तेमाल किया गया है। गाने को रेखा और धर्मेंद्र पर चित्रित किया गया था। किशोर कुमार ने इस गाने को गाया जिसमें रेखा कुछ शब्दों को बोलते हुए नजर आती है। गाने के बोल राजेंद्र किशन द्वारा लिखे गए थे। गाने में मराठी पंक्तियाँ, “ओ पनडोबा पोरगी फसली रे फसली” और “जावे लये लाजू नको”, गाने को एक नया मोड़ देतीं हैं।

 

5. हम बोलेगा तो- कसौटी(1974)

वर्मा मलिक के लिखे बोल का यह एक हंगामा मचाता हुआ गीत है, जिसे हास्यास्पद भूमिका निभाते हुए प्राण पर चित्रित किया गया है, साथ में अमिताभ बच्चन और हेमा मालिनी भी नजर आते हैं। किशोर कुमार द्वारा गाए गए इस गीत की मुख्य पंक्तियाँ कुछ इस तरह थी,  “हम बोलेगा तो बोलोगे की बोलता है” और दूसरी पंक्ति कुछ इस  प्रकार चलती है, “जोशी पड़ोसी कुछ भी बोले”।

6. छुक छुक छक छक- रफ़ू चक्कर(1975)

इस गीत में ऋषि कपूर और पेंटल, स्त्री रूप धारण किए नजर आते हैं, गाने में नीतू सिंह और असरानी को भी दर्शाया गया है और यह एक रेलगाड़ी डिब्बे का अनुक्रम है। इस गीत को मंगेशकर बहनें, उषा मंगेशकर और आशा भोंसले ने गाया, जिसके बोल गुलशन बावरा के थे।

 

7. लुक छिप लुक छिप- दो अनजाने(1976)

फ़िल्म में इस गीत के दो संस्करण थेअमिताभ बच्चन का चरित्र इस गीत को अपने पुत्र के लिए गाते दर्शाया गया है। गाने का सुखी संस्करण किशोर कुमार द्वारा गाया गया, जो बच्चों के लिए बहुत ही प्यारा गीत बन जाता है। अंजान की लिखी पंक्तियाँ कुछ इस प्रकार हैं, “ओ मेरे नन्हें मुन्ने प्यारे प्यारे राजा, आओ मेरे गले लग जाओ ना, अले आओ ना”।

https://youtu.be/kGmucOvkCNg

8. खाईके पान बनारसवाला- डॉन(1978)

कल्याणजी-आनंदजी द्वारा रचित यह एक बहु लोकप्रिय गीत है, जिसे किशोर कुमार ने गाया और बोल अंजान के थे। यह एक मधुर गीत है जिसे उत्तर प्रदेश की खड़ी बोली में गाया गया और इसमें कुछ अद्भुत प्रहार भी थे। अमिताभ बच्चन इस गाने में ज़ीनत अमान के साथ ऊर्जा से नृत्य करते नजर आते है

https://youtu.be/wuiQJ-hLfqA

 

9. लैला ओ लैला- कुर्बानी(1980)

कल्याणजीआनंदजी ने इस गीत में फिर से जीवंत कर देने वाले ड्रम के संगीत का प्रयोग किया है, जैसे ही गाना चलता है, इसका मधुर संगीत आपके कानों में बैठ जाता है। यह गीत “सिकानो” से प्रेरित था, जिसे ब्लैक ब्लड समूह ने गाया था। इंदीवर के लिखे इस गीत को अमित कुमार और कंचन ने गाया। ज़ीनत अमान गाने को गुनगुनाती नजर आती है और अमज़द खान ड्रम बजाते दर्शाये गए हैं, साथ में फिरोज खान भी गाने में नजर आते हैं।

 

10. मेरे अंगने में- लावारिस(1981)

संगीत निर्देशकों की जोड़ी कल्याणजीआनंदजी का एक और सुपर हिट गाना जिसमें पुनः अमिताभ बच्चन मुख्य भूमिका में नजर आते है। अंजान की लिखी पंक्तियाँ, “मेरे अंगने में तुम्हारा क्या काम है, जो है नाम वाला, वही तो बदनाम है” किशोर कुमार ने गाया।

अपनी मोहक धुनों के अलावा यह गाना अपनी हास्य पन्क्तियों के कारण बहुत लोकप्रिय हुआ।

 

 

Latest Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,116FollowersFollow
5,190SubscribersSubscribe

Latest Articles